Cryptocurrency क्या है और कैसे करता है यह काम?

34
Cryptocurrency क्या है

9 जनवरी 2009। Bitcoin के Launch होने की तारीख। Bitcoin यानि एक Crypto Currency. उस वक़्त किसी ने भी यह नहीं सोचा होगा कि 10 साल के अंदर एक Bitcoin की कीमत 7 लाख से अधिक हो जाएगी। आखिर Crypto Currency क्या है और यह कितने प्रकार का होता है।
दोस्तों आपने Bitcoin का नाम जरूर सुना ही होगा। और आज तो Bitcoin के तरह के कई Cryptocurrency क्या है?Market में मौजूद हैं। आइए आज जानते हैं कि Cryptocurrency क्या है और ये इतना fast growth कैसे कर पाया।

Cryptocurrency क्या है ?

Cryptocurrency एक medium है, जिसके द्वारा आप कोई भी transaction कर सकते हैं। आप कुछ खरीद सकते हैं ।
बिल्कुल सही पढ़ा आपने। जी हाँ !

ये एक तरह का Virtual Currency है

लेकिन कोई भी चीज खरीदने के लिए तो पैसे लगते हैं न। लेकिन ये तो जानते होगे आप कि अलग- अलग देशो में इन पैसों की कीमत और Value अलग अलग होती है। Currency के कई रूप आप जानते ही होंगे । जैसे- रुपया, डॉलर, येन आदि।
किसी देश के पैसे या currency की कीमत दूसरे देश में कम या अधिक हो सकती है। तो अब हम एक नए देश की कल्पना करते हैं। Digital World की, जो Virtual यानि काल्पनिक है। और इस देश की जो Currency है उसे Cryptocurrency बोलते हैं।

Physical Crrency से पूरी तरह अलग है

आइए, अब इसी चीज को विस्तार से समझते हैं। अभी तक हम जिस पैसे को जानते या समझते हैं वो physical रूप में होते हैं । आप उसे देख सकते हैं और आप touch कर सकते हैं। लेकिन कल्पना कीजिये एक ऐसे Currency या मुद्रा की जिसका आप use कर सकते हैं। कोई समान खरीद सकते हैं। किसी Service के बदले आप उसे किसी को दे भी सकते हैं। लेकिन वो Currency या आपका वो पैसा Physical नहीं होता। यानि आप उसे देख नहीं सकते । Touch नहीं कर सकते। ये Cryptography का use करता है, यानि कि इस माध्यम से किया गया transaction बेहद secure होता है।

तो आप ये मान सकते हैं कि Cryptocurrency Digital Payment के लिए एक Currency है । यानि यदि Internet एक देश है तो उसका राष्ट्रीय मुद्रा Cryptocurrency है।

भारत सहित कई देशों में है Ban

हालांकि भारत में Cryptocurrency का use बिल्कुल अवैध है। यानि आप इसका use करेक खरीद- बिक्री नहीं कर सकते। क्योंकि इस माध्यम से किए गए transaction को track नहीं किया जा सकता।

लेकिन यहाँ चर्चा करने का उद्देश्य आपको उस Technology के बारे में बताना है।

Cryptocurrency एक Digital Currency है, जो Computer algorithm का use करती है और Cryptography का use करने के वजह से secure होती है। इसका use करके आप किस भी तरह के सामानों या services की खरीद-बिक्री कर सकते हैं। दूसरे Physical Currencies के तरह किसी सरकार या agency का इस पर कोई control नहीं होता। यही कारण हैं कि कई देशों में यह Ban है।

ये भी जाने:- Cryptography क्या है?

2009 में Bitcoin के आने के बाद से अब तक 1000 से अधिक तरह के Cryptocurrencies Market में मौजूद हैं। जिनमें से Bitcoin, Litecoin, Monero, Dogecoin, VoiceCoin काफी प्रचलित हैं। इनमे भी Bitcoin का अपना एक अलग पहचान है जिसकी कीमत day-by-day बढ़ती जा रही है।

भविष्य में और बढ़ेगी Demand

Cryptocurrency का use काफी ज्यादे बढ़ी है। इसके growth की कल्पना आप इसी से लगा सकते हैं कि जितनी भी Cryptocurrencies जब Launch हुई तो उसका Market Value काफी कम था या ना के बराबर। आपको जान के आश्चर्य होगा कि Bitcoin के launching के वक़्त दुनिया में रोजाना एक करोड़ डॉलर का transaction होता था। जिसमें Bitcoin का transaction एक डॉलर की भी नहीं थी। लेकिन आज एक सप्ताह में Bitcoin से एक ट्रिलियन डॉलर का transaction होता है। जबकि प्रति सप्ताह Physical Currency का transaction 70 ट्रिलियन डॉलर है। 10 सालों में इस रफ्तार का growth आपको ये समझने के लिए पर्याप्त है कि Cryptocurrency का भविष्य क्या है?

तो इस Post में हमने जाना कि Cryptocurrency क्या है? बातें और भी हैं, जिन पर focus हमलोग आगे करेगे। आपको ये Post कैसा लगा, जरूर बताइएगा। हमें आपके सुझावों का इंतजार रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.